जेईई एडवांस रिजल्ट आउट: इंदौर से कई टोपर

kartik22_13_06_2016

जेईई एडवांस के रविववार को घोषित परीक्षा परिणाम का सुबह से ही स्टूडेंट्स इंतजार कर रहे थे। वेबसाइट पर सुबह करीब 10 बजे परिणाम अपलोड हुआ और इसी के साथ स्टूडेंट्स में खुशी की लहर दौड़ गई। इस परीक्षा में शहर के कार्तिक पाटेकर ने ऑल इंडिया रैंकिंग में छठी रैंक हासिल कर शहर के टॉपर बने। वहीं 75वीं रैंक के साथ अक्षय नीमा शहर के टॉपर्स में दूसरे स्थान पर रहे। वहीं ऑल इंडिया में 257वीं रैंक प्राप्त कर एमपी गर्ल्स केटेगरी में इंदौर की चेल्सी राहेजा ने पहला स्थान प्राप्त किया है।
सपनों की ओर बढ़ते कदम का पहला पड़ाव पार करने वाले ये स्टूडेंट्स रिसर्च के क्षेत्र में जाना चाहते हैं। टॉपर्स का कहना है कि एडमिशन चाहे किसी भी आईआईटी में मिले लेकिन ख्वाहिश देश के लिए कुछ बेहतर करने की है। एडवांस में बेहतरीन मार्क्स पाने वाले स्टूडेंट्स अब काउंसलिंग की तैयारी में लग गए हैं।
परिणाम बेशक सुबह 10 बजे घोषित हुआ लेकिन थोड़ी ही देर में वेबसाइट हैंग हो गई। शाम तक स्टूडेंट्स अपना परिणाम देखने के लिए परेशान होते रहे। दोपहर बाद थोड़ी-थोड़ी देर के लिए जरूर अपडेट आते रहे, लेकिन कुछ ही स्टूडेंट्स परिणाम देख सके। यह पहली बार हुआ कि वेबसाइट इतने ज्यादा वक्त के लिए हैंग रही।
ऑल इंडिया रैंकिंग में छठा स्थान पाने वाले कार्तिक पाटेकर अपनी सफलता का राज कड़ी मेहनत और कंसेप्चुअल स्टेडी बताते हैं। वे कहते हैं कि इस परीक्षा के लिए 11वीं से ही तैयारी शुरू कर दी थी इसलिए बिना ड्रॉप लिए परीक्षा बेहतरीन अंकों से पास की। बचपन से ही विज्ञान में रुचि थी और अब मैं रिसर्च के क्षेत्र में जाना चाहता हूं। मैं पार्टिकल फिजिक्स को लेकर रिसर्च करना चाहता हूं ताकि देश के हित में काम कर सकूं। कार्तिक के पिता राजेंद्र और माता संगीता पाटेकर बताते हैं कि बेटे ने इस परीक्षा के लिए अपने हर शौक छोड़ दिए इसलिए आज वह सबसे बड़े सपने को पूरा करने की सीढ़ी चढ़ सका।
अक्षय नीमा ने ऑल इंडिया रैंकिंग में 75वां स्थान प्राप्त किया है। वे कहते हैं कि पढ़ाई के दौरान वे हमेशा इसी बात को ध्यान रखते थे कि सवाल कितना ही टफ क्यों न हो हार कभी नहीं मानूंगा और जब तक सवाल सही हल न कर लूं उसके कंसेप्ट पर ध्यान देता रहूंगा। खुद को बेहतर करने की कोशिश में मैं हमेशा अपनी गलतियों से ही सीखने की कोशिश करता था। मैं कंप्यूटर साइंस में रिसर्च कर देश के विकास में मदद करना चाहता हूं। अक्षय ने सफलता की खुशी सबसे पहले पिता अजय और माता सुनीता नीमा के साथ बांटी।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.