ऐपल के सेंटर में मिलेंगी चार हजार नौकरियां

ख्यात प्राप्त अमेरिकी टेक्नोलॉजी कंपनी ऐपल इंक ने हैदराबाद में नया ऑफिस खोलकर अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज करा दी। इस ऑफिस में आइफोन, आइपैड, मैक और ऐपल वाच जैसे उत्पादों के लिए नक्शों के विकास पर काम किया जाएगा। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने भारत दौरे पर आए कंपनी के ग्लोबल चीफ एक्जीक्यूटिव टिम कुक की मौजूदगी में इस ऑफिस का उद्घाटन किया।
इस मौके पर कुक ने कहा कि कंपनी का नया ऑफिस खोलते हुए हम उत्साहित हैं। यहां स्थानीय स्तर पर उपलब्ध प्रतिभा अतुलनीय है। हम यहां रिश्तों का विस्तार करेंगे। जैसे-जैसे कामकाज का विस्तार होगा, हम ज्यादा से ज्यादा यूनीवर्सिटी में जाएंगे और नए पार्टनर बनाएंगे। हालांकि कैलीफोर्निया की इस कंपनी ने इस ऑफिस में निवेश के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है लेकिन कहा कि यहां के निवेश से नक्शों का विकास तेजी से होगा और इससे चार हजार तक नौकरियां पैदा होंगी। कुक ने कहा कि इस समय भारत में 4जी सेवा लांच हो रही है। यहां आने का बिल्कुल सही समय है।
उद्घाटन समारोह में शामिल हुए चंद्रशेखर राव के पुत्र और प्रदेश के आइटी मंत्री के. टी. रामाराव ने कंपनी से अनुरोध किया कि वह यहां अपना खुद का कैंपस स्थापित करे और टी-हब में भागीदारी करे। राज्य सरकार ने टी-हब के नाम से टेक्नोलॉजी इंक्यूबेटर शुरू किया है।
कपनी ने एक बयान में कहा कि वह अपने गैजेट्स में मैप्स में लगातार नए फीचर जोड़ती रहती है। वह 3डी व्यू, फ्लाईओवर के अलावा यूजर को निकटवर्ती क्षेत्र में शॉप, रेस्टोरेंट और दूसरे उपयोगी स्थानों की जानकारी तलाशने में मदद देने के लिए नए फीचर जोड़ रही है। कंपनी ने मैप डवलपमेंट के लिए ग्लोबल आइटी कंपनी आरएमएसआइ को अपना भागीदार बनाया है। यह कंपनी जीआइएस, मॉडलिंग व एनालिटिक्स और सॉफ्टवेयर सर्विसेज देती है। इस कंपनी के सीईओ अनूप जिंदल भी कार्यक्रम में मौजूद थे।
कार्यक्रम में राज्य के मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐपल ने मैप डवलपमेंट ऑफिस के लिए हैदराबाद को चुना, यह बड़ा सम्मान है। इससे यहां हजारों नौकरियां पैदा होंगी। हमारी नीतियों, अच्छी क्वालिटी के इंफ्रास्ट्रक्चर और इस क्षेत्र में मौजूदा बेहतरीन प्रोफेशनल्स की मौजूदगी के चलते कंपनी ने हैदराबाद का चयन किया।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.