तोड़े वो सारे भ्रम जो आज तक अंडे खाने वालों के मन मे थे…!!!!

अंडे में पाए जाने वाले पोषक तत्व-
अंडे में उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन, सेलेनियम, विटामिन डी, बी 6, बी 12 और मिनरल्स जैसे जिंक, आयरन और कॉपर पाया जाता है, जो कि अंडे को सबसे अधिक न्यूट्रिशन फूड बनाते हैं.दुनियाभर में न्यूट्रि‍शनिस्ट और हेल्थ एक्सपर्ट मानते हैं कि अंडा सेहत के लिए फायदेमंद है.

क्या कहती हैं रिसर्च-
रिसर्च के मुताबिक, रोजाना अंडे खाने से कोलेस्ट्रॉल की समस्या या हार्ट रोग की समस्याओं के खतरों से बच सकते हैं. अंडे में सैचुरेटिड फैट कम होता हैं और इसमें कोई ट्रांस फैट नहीं होता.

लोगों में अंडे को लेकर कई मि‍थक हैं. आज हम आपको ‘वर्ल्ड एग डे’ के मौके पर बता रहे हैं अंडे से जुडे मिथ्स के बारे में.

मिथः कोलेस्ट्रॉल के स्तर में वृद्धि कर देता है अंडा.
तथ्य: अंडा प्रोटीन का बेहतरीन स्रोत हैं, इसलिए इसे डायट में शामिल करना चाहिए. ये मि‍थ है कि अंडा खाने से कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है. हां, ये सच है कि अंडे की जर्दी आपकी दिल की सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकती है. इसलिए आप अपनी डायट में सफेद अंडे को शामिल कर सकते हैं. एक दिन में दो अंडे खाएं.

क्या आप भारतीय भोजन के इतिहास और कुछ बेहद रोचक बातों को जानते हैं??

मिथक: अंडे को धोने से साल्मोनेला बैक्टीरिया खत्म हो जाते है.
तथ्य: साल्मोनेला जीवाणु अंडे के अंदर मौजूद होते हैं. ये अंडे की सतह पर मौजूद नहीं होते.

मिथक: एक दिन में बहुत सारे अंडे का सेवन स्वास्थ्य के लिए खराब होते हैं.
तथ्य: विशेषज्ञों का मानना है कि प्रति दिन तीन पूरे अंडे स्वस्थ लोगों के लिए पूरी तरह से सुरक्षित हैं. डायटिशियन रूपाली दत्ता कहती हैं कि एक दिन में एक या दो अंडे अच्छे प्रोटीन सेवन के लिए पर्याप्त हैं, यदि आप शाकाहारी हैं तो यह प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत है.

मिथक: सफेद अंडे के बजाय ब्राउन अंडे ज्‍यादा फायदेमंद हैं.
तथ्य: अंडे कई रंगों में आते हैं. अलग-अलग अंडे रंग का रंग मुर्गियों के उत्पादन करने वाले पिगमेंट से आता है. इसलिए, सफेद या ब्राउन दोनों ही अंडे सेहत के लिए फायदेमंद हैं.

मिथक: अंडे के बाद आपको दूध नहीं पीना चाहिए.
तथ्य: आयुर्वेदिक के अनुसार अंडे के साथ दूध पीने से अपच, ब्लोटिंग और गैस बनती हैं.

Send SMS to :
You can leave a response, or trackback from your own site.

Leave a Reply