तिरुवनंतपुरम में 29 साल बाद गेंद-बल्ले में होगी टक्कर..!!!

टीम इंडिया और न्यूजीलैंड के बीच तीन टी-20 मैचों की सीरीज का अंतिम और निर्णायक मैच मंगलवार को तिरुवनंतपुरम के ग्रीन फील्ड इंटरनेशनल स्टेडियम में खेला जाएगा। इस शहर में 29 साल बाद क्रिकेट मैच का आयोजन होने जा रहा है। इसको लेकर यहां के क्रिकेट प्रेमी दर्शकों में भारी उत्साह है। बारिश की आशंका के बीच लोगों को उम्मीद है कि यहां टीम इंडिया और कीवी टीम में जोरदार टक्कर देखने को मिलेगी।

तिरुवनंतपुरम में 29 साल पहले 1988 में विवियन रिचर्डस की कप्तानी में वेस्टइंडीज की टीम ने 25 जनवरी को यहां यूनिवर्सिटी स्टेडियम में भारत के खिलाफ मैच खेला था। इतने लंबे अंतराल के बाद मंगलवार को हो रहे मैच को देखने के लिए करीब 40 हजार दर्शक स्टेडियम में उपस्थित रह सकते हैं। वेस्टइंडीज और टीम इंडिया के बीच मैच में भी बारिश की बाधा आई थी। भारत ने पहले खेलते हुए 50 ओवर में 8 विकेट खोकर 239 रन बनाए थे। बाद में बारिश की वजह से वेस्टइंडीज को 45 ओवर में 240 रनों का टारगेट दिया गया। जिसे फिल सिमंस की शतक की बदौलत वेस्टइंडीज ने 43 ओवरों में ही महज एक विकेट खोकर हासिल कर लिया।

दिल्ली का पहला मैच टीम इंडिया ने जीता था। राजकोट में कीवी टीम ने पलटवार कर सीरीज में बराबरी कर ली है। ऐसे में तीसरे मैच के काफी रोमांचक होने के आसार है। टीम इंडिया के ओपनरों और ट्रेंट बोल्ट के बीच की टक्कर देखने लायक होगी। वहीं कीवी टीम के ओपनर कोलिन मुनरो त‌था मार्टिन गुप्टिल तथा टीम इंडिया के गेंदबाजों के बीच कड़ी टक्कर होगी। दिल्ली में रोहित और शिखर ने 80-80 रनों की पारी खेली थी। वहीं राजकोट में मुनरो ने शतक लगाकर अपनी टीम को जीत दिलाने में मुख्य भूमिका अदा की थी।

सोमवार को तिरुवनंतपुरम में जोरदार बारिश हुई। मौसम विभाग ने मंगलवार को भी बारिश की आशंका व्यक्त की है। अगर बारिश हुई तो तिरुवनंतपुरम के लोगों को निराश हो सकते हैं। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच भी टी-20 सीरीज का निर्णायक मैच हैदराबाद में बारिश की भेंट चढ़ गया था। अगर यहां भी बारिश हुई तो टीम इंडिया और विराट कोहली का कीवी टीम के खिलाफ टी-20 सीरीज जीतने का सपना टूट सकता है।

टीम इंडिया ने अभी तक कीवी टीम के खिलाफ कभी भी टी-20 सीरीज नहीं जीती है। वन डे सीरीज में तो उसे जीत मिली है लेकिन टी-20 में वह कीवी टीम से हमेशा कमजोर पड़ी है। दिल्ली में टीम इंडिया ने पहली बार टी-20 में कीवी टीम को हराया है। ऐसे में तिरुवनंतपुरम में सीरीज जीत इतिहास बुक में ‌विराट कोहली अपना नाम दर्ज कराना चाहेंगे।

तीसरे मैच में धोनी की बैटिंग पर भी सबकी नजर रहेगी। राजकोट में धीमी बल्लेबाजी की वजह से उनकी आलोचना हुई थी। लक्ष्मण ने तो यहां तक कह दिया था कि धोनी अब टी-20 से अपने को अलग कर लें, वह वन डे में जरूर हिस्सा हो सकते हैं। धोनी ने राजकोट में हालांकि 37 गेंद में 49 रन बनाए थे। लेकिन पांच गेंद में बाउंड्री के जरिए महज 26 रन जुटाए। वहीं अन्य 32 गेंदों में महज 23 रन ही बना सके थे। ऐसी धीमी पारी के बाद यह देखना होगा कि कप्तान कोहली और कोच रवि शास्‍त्री अब धोनी को किस नंबर पर बैटिंग कराते हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *