बोइंग 737 मैक्स पर पाबंदी के बाद दूसरी एयरलाइन्स कंपनियां नहीं वसूलेंगी टिकट की मनमानी कीमत

बोइंग 737 मैक्स विमान के इथियोपिया में क्रैश होने के बाद से कई देशों में इस मॉडल की फ्लाइट पर पाबंदी लगा दी गई. मंगलवार देर रात डीजीसीए ने भी आधिकारिक तौर पर भारत में उड़ रहे इस मॉडल की उड़ाने ग्राउंड करने के आदेश दिए. साथ ही, यात्रियों की दिक्कत से निपटने को लेकर नागरिक उड्डयन सचिव ने देश के तमाम फ्लाइट ऑपरेटर्स के साथ बैठक की. सुनिश्चित किया कि कोई भी एयरलाइन्स इसका फायदा उठाकर टिकट की कीमत नहीं बढ़ाएंगी. एयरलाइन्स कंपनियों के साथ मंत्रालय की बुधवार को आपात बैठक हुई. बोइंग 737 मैक्स पर डीजीसीए की पाबंदी के मद्देनज़र यात्रियों को होने वाली परेशानी से निपटने के लिए बुलाई गई बैठक में तमाम एयरलाइन कंपियों के ऑपरेटरों ने हिस्सा लिया.

ऐसे जहाज को लेकर मोहलत शाम 4 बजे तक की थी पर करीब 2:30 बजे ही स्पाइस जेट के 12 बोइंग 737 मैक्स ग्रोउंडेड हो गए. 4 बजे से नोटम भी एयरस्पेस को लेकर जारी हो गया, जिसके बाद कोई बाहरी बोइंग 737 मैक्स भी भारत की सीमा में दाखिल नही हो पाएगा. नागरिक उड्डयन मंत्रालय के सचिव प्रदीप सिंह खरोला ने बताया कि  मीटिंग इसलिए बुलाई गई ताकि मुसाफिर को कोई दिक्कत न आये. बैठक में स्पाइस जेट ने फ्लाइट की फ्रीक्वेंसी बढ़ाने की बात की. साथ ही और एयरलाइन्स भी पैसेंजर को सेवाएं देने में मदद करेंगी.

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.