मेरे जन्मदिन पर मेरे बाबूजी मेरे लिए एक कविता जरूर लिखते थे-महानायक अमिताभ बच्चन

आज सदी के महानायक अमिताभ बच्चन का 77वां जन्मदिन है, इस मौके पर बिग बी ने अपने पुराने दिन याद करते हुए कहा कि मेरे जन्मदिन पर मेरे बाबूजी मेरे लिए एक कविता जरूर लिखते थे और वो ही मेरा बेस्ट गिफ्ट होता था, मुझसे ज्यादा मेरी मां उस कविता के लिए उत्साहित रहती थी, वो सब बहुत याद आता है लेकिन मुझे पता है कि मां-बाबूजी मेरे साथ अभी नहीं है लेकिन जहां भी हैं उनका स्नेह और आशीष हमेशा मेरे साथ बना हुआ है, ये मुझे पता है।

हरिवंशराय बच्चन
तो क्या सच में पिछले जन्म में ये थे अमिताभ बच्चन?

इसमें कोई शक नहीं कि अमिताभ के जीवन पर उनके पिता कवि हरिवंशराय बच्चन का काफी प्रभाव रहा है लेकिन उनसे जुड़ी एक खास बात शायद आपको पता नहीं होगी, दरअसल अमिताभ को उनके पिता अपने पिता प्रताप नारायण श्रीवास्तव का पुनर्जन्म मानते थे।

बिग बी ने खुद खोला था राज
बाबूजी को आया था दादाजी का सपना: अमिताभ बच्चन

दरअसल कुछ वक्त पहले एक इंटरव्यू में बिग ने बताया था कि बाबूजी हमेशा समझते थे कि मैं अपने दादा प्रताप नारायण श्रीवास्तव का पुनर्जन्म हूं, क्योंकि मेरे जन्म से पहले मेरे पिता को एक सपना आया था, जिसमें मेरे दादाजी , मेरे पिता को दिखाई दिए थे, जिन्होंने उनसे कहा था कि जल्दी उठो,तुम पिता बनने वाले हो, मैं जल्द तुम्हारे पास आ रहा हूं।

Send SMS to :
You can leave a response, or trackback from your own site.

Leave a Reply