जाने …….यदि आप किसी बिमारी से ग्रसित है तो मिल सकती है इनकम टैक्स में छूट…!

इनकम टैक्सल डिपार्टमेंट कई ऐसी बीमारियों के इलाज पर टैक्स छूट रहा है जिससे आप बीमारी पर हुए खर्च के लिए क्लेम कर सकते हैं.

आयकर कानून के कई प्रावधान हैं जिनमें टैक्स छूट का लाभ मिलता है. सेक्शन 80सी के बारे में आपने काफी कुछ पढ़ा-सुना होगा. पर, क्या आप जानते हैं कि खास बीमारियों के इलाज पर किए गए खर्च पर भी डिडक्शन क्लेम किया जा सकता है? इसका लाभ सेक्शन 80डीडीबी के तहत मिलता है. खुद या परिवार के आश्रित सदस्य के चिकित्सा खर्च पर यह डिडक्शन क्लेम किया जा सकता है.

कोई भी खुद या परिवार के आश्र‍ित सदस्य पर किए गए ऐसे खर्च के ल‍िए डिडक्शन क्लेम कर सकता है. इन सदस्यों में जीवनसाथी, माता-पिता, बच्चे या आश्रित भाई-बहन शामिल हो सकते हैं. हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) के मामले में यह परिवार का कोई सदस्य हो सकता है.

3. डिडक्शन की रकम कई बातों पर निर्भर करती है. इसमें देखा जाता है कि आश्रित व्यक्ति की उम्र कितनी है. वास्तविक रकम कितनी खर्च हुई है? क्या यह 1 लाख रुपये है? इनमें जो भी रकम कम होगी डिडक्शन का फायदा उसके लिए ही मिलेगा. 60 साल से कम उम्र के लोगों के लिए डिडक्शन की रकम 40,000 रुपये तक सीमित है. यदि बीमार व्यक्ति की उम्र 60 साल से ज्यादा है तो एक लाख रुपये तक का डिडक्शन क्लेम किया जा सकता है.

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.