उद्धव ठाकरे सरकार ने बहुमत जीता ..!

शिव सेना, एनसीपी और कांग्रेस के महा विकास अघाड़ी गठबंधन की ओर से उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री पद का कार्यभार संभाला था.

दो बजे जब विधानसभा की कार्यवाही शुरू हुई तो विपक्ष ने विरोध किया. विपक्षी पार्टी बीजेपी के नेता देवेंद्र फडणवीस ने सरकार पर नियमों को ताक पर रखकर सदन चलाने का आरोप लगाया है.

बीजेपी की ओर से मंत्रियों की शपथ को ग़लत क़रार देने और संविधान के नाम की शपथ न लिए जाने के आरोप पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने विधानसभा में विपक्ष पर हमला बोला और कहा कि हां, उन्होंने छत्रपति शिवाजी महाराज और अपने माता-पिता के नाम पर भी शपथ ली.

उन्होंने कहा कि अगर यह अपराध है तो मैं यह अपराध फिर से करूंगा.

सदन में सबसे पहले सदस्यों की गिनती हुई और उनसे हां या ना में जवाब मांगा गया. इस दौरान बीजेपी के सदस्य हंगामा करते रहे, उनका कहना था कि ये सब नियमों के ख़िलाफ़ हो रहा है.

सरकार के पक्ष में 169 विधायकों ने वोट दिया और इस दौरान विपक्ष में कोई भी वोट नहीं पड़ा क्योंकि बीजेपी ने सदन से वॉकआउट कर दिया था. इस दौरान चार विधायक तटस्थ रहे जिनमें महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना और एआईएमआईएम के विधायक शामिल हैं.

कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने शिवसेना नेता और मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में विश्वास मत का अनुमोदन किया था.

Send SMS to :
You can leave a response, or trackback from your own site.

Leave a Reply