भारतीय युवाओ की समस्या और समाधान ..!!

आज भारत दुनिया का सबसे युवा देश है.

2011 की जनगणना के अनुसार देश की 54% आबादी युवा है। किसी भी देश को खड़ा करने में उस देश के युवाओं का अहम योगदान होता है। हालाँकि भारतीय युवा किसी से कम नहीं है लेकिन फिर भी कुछ कारण जरुर है जिस वजह से युवा जनसंख्या का ठीक से इस्तेमाल नहीं किया गया है। जिसके कई आर्थिक, सामाजिक कारण हो सकते है जो युवाओं में अवसाद और कुंठा की भावना को पैदा करते है।

यहाँ पर हम कुछ कारणों पर प्रकाश डालने की कोशिश कर रहे है। आप देखिये भारतीय युवा के टेंशन – कैसे ये 10 टेंशन भारतीय युवाओं के भविष्य के लिए खतरा है-

भारतीय युवा के टेंशन –

1. कैरियर की टेंशन-

आज के भारतीय युवा की सबसे आम समस्या है कैरियर। उनको ऐसे विकल्पों की तलाश रहती है जो उनके और परिवार के सपनो को पूरा कर सके। लेकिन इस आर्थिक युग में हर बड़े कैरियर का रास्ता खूब सारे धन के ढेर से होकर गुजरता है। इसलिए हर भारतीय युवा बेहतर कैरियर के सपने देखता ही रह जाता है क्योंकि आर्थिक समस्या हर युवा के साथ है।

2. देश की चिंता-

हमेशा बेपरवाह कहे जाने युवाओं को सबसे बड़ी टेंशन है देश का भविष्य। आज देश किन हालातों से गुजर रहा है वो हम देख ही रहे है। ऐसे में देश की टेंशन होना लाज़िमी है।

3. पुरानी पीढ़ी और नई पीढ़ी-

समय के साथ लोगो की सोचने समझने की क्षमता में जबरदस्त बदलाव आया है, और जिसका असर हमारे रिश्तों में देखने को मिल रहा है। आज युवा सोच परम्परावादी और पुरानी सोच से सामंजस्य नहीं बिठा पा रहे है।

4. बेवजह का हस्तक्षेप-

आज के युवाओं को आज़ादी पसंद है वे अपनी जिंदगी को अपने ढंग से जीना चाहते है। लेकिन परिवार के सदस्य उनकी जिंदगी में दखल देते है जो उनको बिलकुल पसंद नहीं आता है।

5. दिल की सुने या परिवार की-

भारत के युवाओं में कैरियर को लेकर आज भी विरोधाभास है। क्योंकि उनका परिवार चाहता है कि वे उनके अनुसार कैरियर की राह चुने। लेकिन उनका दिल कुछ और ही कहता है ऐसे में वे ना इधर के रहते है ना उधर के।

6. गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड-

आजकल के युवा में गर्लफ्रेंड और बॉयफ्रेंड बनाना एक चलन सा बन गया है। ऐसे में कई बार जब रिश्ते टूटते है तो फिर उन्हें जिंदगी भर का दर्द दे जाते है। जिसका असर उनके कैरियर और पढ़ाई पर भी पड़ता है।

7. हेल्थ प्रॉब्लम-

खानपान और कैरियर के दबाव के चलते बेहतर स्वास्थ्य के लिए युवाओं को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। जिसकी वजह से युवा कम उम्र में ही किसी बीमारी का शिकार हो जाते है।

8. व्यक्तिगत रिश्ते-

आजकल रिश्तों में वो पहले जैसा भरोसा नहीं रहा है जो हमारे पिता या दादा के समय पर हुआ करता था। आज जहाँ नैतिक मूल्य के नाम पर सिर्फ स्टेटस सिंबल बनकर रह गया है वहां पर रिश्तों को जिन्दा रखना मुश्किल हो गया है।

9. सोशल स्टेटस-

बाजारवाद के इस दौर में अपने आप को दूसरों से बेहतर दिखाना आज सोशल स्टेटस बन चूका है। आज लोगो को आकर्षक जीवन शैली अपनी तरफ खिंच रही है। ये आभाषी दुनिया है इसलिए इसके भी कई टेंशन है जो युवाओ को झेलने पड़ते है।

10. रोल मॉडल-

आजकल के युवाओं के आदर्श स्वामी विवेकानंद नहीं बल्कि विराट कोहली और सलमान खान जैसे सितारे होते है। वो उनकी आकर्षक जीवन शैली के दीवाने हो जाते है। जिसकी वजह से वो उनके जैसा दिखने के चक्कर में कई समस्याओं का सामना करते है।

ये है भारतीय युवा के टेंशन – ये 10 टेंशन लगभग हर भारतीय युवा को है, अगर इनको हटा दें तो आज भी भारतीय युवा दुनिया में किसी से कम नही है।

Send SMS to :
You can leave a response, or trackback from your own site.

Leave a Reply