भारत सरकार नए वर्ष २०२० से कुछ बदलाव करने जा रही है जाने …

डिजिटल ऐज में सरकार ने देश की जनता के जीवन को और सुगम बनाने की पहल करते हुए कुछ बदलाव किये है जिन्हें १ जनवरी २०२० से लागू किये जायेंगे …

पैनआधारलिंकिंग

याद है ना आपको कि पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक कराने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर 2019 है. हाल ही में आयकर विभाग ने 31 दिसंबर तक पैन को आधार से लिंक करा लेने के लिए एक रिमाइंडर भी जारी किया था. अगर 31 दिसंबर तक आधार से पैन की लिंकिंग नहीं हुई तो PAN काम नहीं करेगा.

बैकोंसे NEFT करनेपरचार्जनहीं

1 जनवरी 2020 से ग्राहकों को बैंकों से एनईएफटी के जरिए किए जाने वाले लेनदेन के लिए कोई चार्ज नहीं देना पड़ेगा. नोटबंदी की तीसरी वर्षगांठ पर डिजिटल लेनदेन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से भारतीय रिजर्व बैंक ने इस संबंध में एक प्रस्ताव पेश किया था. वहीं 16 दिसंबर से 24 घंटे नेफ्ट ट्रांजेक्शन की सुविधा भी शुरू कर दी गई है.

रूपेकार्डऔर UPI सेलेनदेनपर MDR चार्जनहीं

1 जनवरी 2020 से 50 करोड़ रुपये से अधिक टर्नओवर वाली कंपनियों को अपने ग्राहकों को बिना किसी MDR शुल्क के डेबिट कार्ड और UPI QR कोड के जरिए भुगतान की सुविधा उपलब्ध करानी होगी. यानी रूपे कार्ड और UPI ट्रांजेक्शंस पर मर्चेंट डिस्काउंट रेट (MDR) शुल्क का वहन सरकार करेगी.

EPFO मेंबर्सकेलिए 1 जनवरीसेपेंशन ‘कम्युटेशन‘ सुविधा

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के कर्मचारी पेंशन योजना के तहत पेंशन कोष से एकमुश्त आंशिक निकासी यानी ‘कम्युटेशन’ की सुविधा 1 जनवरी से ले सकेंगे. इस सुविधा के तहत पेंशनधारक को एडवांस में पेंशन का एक हिस्सा एकमुश्त दे दिया जाता है. उसके बाद अगले 15 साल के लिए उसकी मासिक पेंशन में एक तिहाई की कटौती की जाती है. 15 साल बाद पेंशनभोगी पूरी पेंशन लेने के लिए पात्र होते हैं.

SBI ATM सेनएतरीकेसेकैशनिकासी

SBI ने वन टाइम पासवर्ड (OTP) बेस्ड ATM विदड्रॉल सुविधा लॉन्च की है, जो 1 जनवरी 2020 से लागू होगी. यह सुविधा नए साल से SBI ATM में रात 8 बजे से

सुबह 8 बजे के बीच 10000 रुपये से ज्यादा के ट्रांजेक्शन के लिए मिलेगी.

येडेबिटकार्डनहींकरेंगेकाम

अगर आपका भी स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) में अकाउंट है और बैंक के एटीएम-डेबिट कार्ड (ATM or debit Card) कार्ड इस्तेमाल करते हैं तो जान लें कि अब पुराने मैग्नेटिक एटीएम-डेबिट कार्ड को बदलवा लें। ग्राहकों को यह काम 31 दिसंबर 2019 तक करना है .क्योंकि वह नए साल से अपने पुराने एटीएम-डेबिट कार्ड से पैसे नहीं निकाल पाएंगे.

गाड़ियांहो जाएंगीमहंगी

टाटा मोटर्स, टोयोटा मोटर्स, महिन्द्रा एंड महिन्द्रा, मारुति सुजुकी, हुंडई मोटर इंडिया, मर्सिडीज-बेंज, किया मोटर्स और निसान मोटर इंडिया जनवरी से अपने वाहनों के दाम बढ़ाने जा रही हैं. कंपनियों का कहना है कि यह कदम उच्च इनपुट लागत के प्रभाव के चलते उठाया जा रहा है. टू-व्हीलर कंपनी हीरो मोटोकॉर्प (Hero MotoCorp) भी जनवरी से अपने वाहनों की कीमतों में वृद्धि की घोषणा कर चुकी है. कंपनी की सभी मोटरसाइकिलों और स्कूटरों के दाम 2000 रुपये तक बढ़ जाएंगे.

सर्विस टैक्स विवाद निपटाने का मौक़ा

सर्विस टैक्स और एक्साइज ड्यूटी से जुड़े पुराने लंबित विवादित मामलों के समाधान के लिए पेश की गई ‘सबका विश्वास योजना’ 31 दिसंबर 2019 को समाप्त होने जा रही है. अब इसे आगे विस्तार दिए जाने की संभावना नहीं है. योजना के तहत पात्र व्यक्तियों को पुराने विवादित मामले में स्वयं कर बकाए की घोषणा करते हुए उसका भुगतान करने का प्रावधान रखा गया है.

आधारसे GST रजिस्ट्रेशन

जीएसटी रजिस्ट्रेशन को आसान बनाने के लिए आधार के जरिए जीएसटी रजिस्ट्रेशन का फैसला लिया गया है. नया जीएसटी रिटर्न फाइलिंग सिस्टम 1 जनवरी 2020 से लागू होगा.

Send SMS to :
You can leave a response, or trackback from your own site.

Leave a Reply