ऑस्ट्रेलिया से क्यू हरी इंडिया क्रिकेट टीम जाने ..!!

0
18

ब्रिस्बेन का गाबा मैदान. भारतीय टीम के ऑस्ट्रेलियाई दौरे का पहला मैच. टी20 मुक़ाबले में विराट कोहली ने टॉस जीता और पहले गेंदबाज़ी करने का फ़ैसला किया.

ऑस्ट्रेलिया की पारी में 16.1 ओवर फेंके गए थे जब बारिश ने मैच में दख़ल दिया. ग्राउंड स्टाफ़ पिच और आसपास के इलाके को ढंकने के लिए कवर लेकर दौड़े.

फिर इंतज़ार शुरू हुआ. कुछ देर बाद बारिश थमी और ख़बर आई कि ऑस्ट्रेलिया को खेलने के लिए पांच गेंद और मिलेगी और मैच अब 17-17 ओवर का हो गया है.

17 ओवर पूरे होने पर ऑस्ट्रेलिया ने चार विकेट के नुकसान पर 158 रन बनाए थे. लेकिन भारत के सामने 17 ओवर में 174 रनों का लक्ष्य रखा गया. अंत में भारतीय टीम सिर्फ़ 169 रन बना पाई और चार रन से मैच हार गई.

लेकिन ये सवाल ज़हन में उठ सकता है कि जब ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 17 ओवर में महज़ 158 रन बनाए थे तो भारत को 159 रनों का लक्ष्य क्यों नहीं दिया गया? ऑस्ट्रेलिया के रनों में 15 रन क्यों जोड़े गए.

 

हारने की असली वजह ..?

इसकी वजह है बारिश और क्रिकेट में इस्तेमाल होने वाला डकवर्थ लुइस सिस्टम.

एक क्रिकेट मैच ठीक ठाक कराने के लिए मैदान पर 22 खिलाड़ियों और 2 अंपायरों की ज़रूरत होती है, लेकिन इसके साथ ही एक और खिलाड़ी हैं जिन्हें ख़ुश रखना बेहद ज़रूरी है.

ये खिलाड़ी हैं – इन्द्र देवता जो क्रिकेट तो नहीं खेलते, लेकिन क्रिकेट का पूरा खेल बिगाड़ ज़रूर सकते हैं.

मौसम की बागडोर इन्द्र देवता के हाथों में ही होती है इसीलिए हर मैच के दौरान उन से शांत रहने की प्रार्थना की जाती है.

लेकिन हर बार ये प्रार्थना सुनी नहीं जाती और कई अहम और दिलचस्प मैच नतीजा निकलने से पहले ही बीच में रोकने पड़ते हैं.

    'No new videos.'