Category Archives: Did You Know??

क्या है I2U2 गठबंधन, आईटूयूटू में भारत की क्या अहमियत होगी?

चार देशों अमेरिका भारत, यूएई और इसराइल के इस नए गठजोड़ का नाम I2U2 (आईटूयूटू) होगा. इस समूह में ‘आई 2’ इंडिया और इसराइल के लिए हैं. वहीं ‘यू 2’ यूएस और यूएई के लिए. अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता नेड प्राइस ने कहा, “भारत एक बड़ा बाज़ार है. भारत एक बहुत बड़ा उपभोक्ता बाज़ार है. वो हाई-टेक और सबसे ज़्यादा मांग वाले उत्पादों का भी बड़ा उत्पादक है. ऐसे बहुत से क्षेत्र हैं, जहाँ ये देश मिलकर काम कर सकते हैं, फिर वो तकनीक, कारोबार, पर्यावरण, कोविड-19 और सुरक्षा ही क्यों न हो.”नेड प्राइस से जब पूछा गया कि इस समूह का उद्देश्य क्या है तो उन्होंने कहा कि उन गठबंधनों और साझेदारों को फिर एक साथ लाना है, जिनका अस्तित्व पहले नहीं था या फिर था भी तो उसका भरपूर इस्तेमाल नहीं किया गया.

    'No new videos.'

नुपुर शर्मा के टिप्पड़ी पर इतना विवाद और हिन्दू देवताओ पर चुप्पी …?

अंग्रेज़ी अख़बार द हिंदू में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक़, नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के बयान के बाद कानपुर में हिंसा हुई लेकिन खाड़ी देशों में इस बयान पर आई तीखी प्रतिक्रिया के बाद पार्टी ने अपने नेताओं के खिलाफ़ ये एक्शन लिया.

खासकर क़तर में भारतीय राजदूत दीपक मित्तल को समन किया गया वो भी तब जब भारत के उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू क़तर के तीन-दिवसीय औपचारिक दौरे पर हैं.

अख़बार लिखता है कि अपने बयान में मित्तल ने सत्तारूढ़ बीजेपी पार्टी के अपने प्रवक्ताओं को ही फ़्रिंज करार दिया है.

विदेश मंत्रालय के आधिकारिक बयान में कहा गया है, “भारत के राजदूत दीपक मित्तल ने क़तर सरकार को बताया है कि ये ट्वीट किसी भी तरह से भारत सरकार के विचार को प्रदर्शित नहीं करते, ये फ़्रिंज लोगों के विचार है. इस तरह के विवादित बयान देने वालों पर कार्रवाई की जा चुकी है.”

    'No new videos.'

कोरियन ड्रामा की दुनिया में बढ़ती लत :स्क्विड गेम

स्क्विड गेम का मशहूर होना, पश्चिमी देशों में हाल के सालों में आई ‘कोरियन सभ्यता की सूनामी’ का एक हिस्सा है. के-पॉप के आर्टिस्ट बीटीएस और ब्लैकपिन्क म्यूज़िक जगत में बड़ा नाम बन गए हैं. फ़िल्मों की बात करें तो पैरासाइट और मिनारी को हॉलीवुड की फ़िल्मों जैसी पहचान के साथ ऑस्कर सम्मान भी मिले. स्क्विड गेम इसी ट्रेंड की अगली कड़ी है.

ऐसा लगता है कि इस के-ड्रामा को रातों-रात सफलता मिल गई है, लेकिन ऐसा नहीं है. दुनियाभर के दर्शकों पर इनका जादू अभी चला है, लेकिन के-ड्रामा एशिया में दशकों के प्रचलित रहे हैं.

90 के दशक में बाज़ार के खुलने के साथ ही इंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में बहुत पैसे आने शुरू हुए. जापान गिरती अर्थव्यवस्था से लड़ने लगा तो चीन की अर्थव्यवस्था बढ़ने लगी. दक्षिण कोरिया की सभ्यता को भी पहचान मिलनी शुरू हुई. अमेरिकी प्रोग्राम की तुलना में दर्शक के-ड्रामा से अधिक जुड़ा हुआ महसूस करने लगे, ये चीनी संस्कृति और सभ्यता के भी अधिक क़रीब थे.

अगले एक दशक में इन्होंने जापानी वर्चस्व को भी चुनौती दी. साल 2003 में कोरियन ड्रामा विंटर सोनाटा को जापान के 20 प्रतिशत दर्शकों ने देखा. कोरियन कल्चर एंड इंफ़ॉरमेशन सर्विस की 2011 की एक रिपोर्ट के मुताबिक, “कई एशियाई देशों में कोरियन ड्रामा वहां के रहन-सहन और ख़रीदारी पर प्रभाव डाल रहा है जो कि सभ्यता की अपील के बारे में बताता है.”

    'No new videos.'

जल्द ही expansion of Universe रुक जाएगा

डार्क ऊर्जा (Dark Energy)) की प्रकृति को लेकर हुए अध्ययन में वैज्ञानिकों ने पता लगाया है कि खगोलीय कालक्रम में जल्दी ही ब्रह्माण्ड का विस्तार (expansion of Universe) रुक जाएगा. इस शोध में वैज्ञानिकों ने यह भी अनुमान लगाया है कि कब तक यह विस्तार रूकना शुरू होकर पूरी तरह से रुकेगा और कब यह संकुचिंत (Shrinking of Universe) होना भी शुरू हो जाएगा.

ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति के बारे में प्रचलित धारणा यही है कि एक विशाल विस्फोट से ही उसकी शुरुआत हुई थी. इस विस्फोट को बिग बैंग की घटना का नाम दिया गया था. तब से अब तक ब्रह्माण्ड का विस्तार (Expansion of Universe) ही हो रहा है. लेकिन यह विस्तार कब तक होता रहेगा इस बारे में वैज्ञानिक किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंचे थे.  नए अध्ययन में डार्क ऊर्जा (Dark Energy) की प्रकृति का अध्ययन करते हुए  वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि खगोलीय काल पैमाने के अनुसार यह विस्तार जल्दी ही रुक जाएगा और इसकी उल्टी प्रक्रिया यानि संकुचन (Shrinking of Universe) की भी शुरुआत हो जाएगी.

13.8 अरब साल से चली आ रही प्रक्रिया
ब्रह्माण्ड के भविष्य या अंत के बारे में कई मत प्रचलित है, लेकिन उनमें से एक मत यह भी है कि 13.8 अरब साल पहले शुरू हुए ब्रह्माण्ड का विस्तार एक सीमा के तक पहुंचकर रुक जाएगा और उसके बाद उल्टी प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. प्रोसिडिसिंग्स ऑफ द नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेस में प्रकाशित इस अध्ययन में इसी के  बारे में बताया है.

डार्क ऊर्जा की भूमिका
तीन वैज्ञानिकों के इस शोध में डार्क मैटर की प्रकृति का प्रतिमान बनाने का प्रयास किया गया था. वैज्ञानिकों का काफी समय से यह मानना है कि ब्रह्माण्ड के विस्तार के लिए डार्क मैटर ही जिम्मार है. इस अध्ययन के प्रतिमान के अनुसार  डार्क ऊर्जा एक प्रकृति का नियमित बल नहीं है, बल्कि क्विंटएसेंस नाम का ऐसा सारतत्व है जो समय के साथ खत्म होता जा रहा है.

    'No new videos.'

डीजीपी सुधीर सक्सेना पहुँचे तीन दिवसीय दौरे पर

इंदौर….डीजीपी बनने के बाद पहली बार आए है इंदौर…. डीजीपी की बेटी सोनाक्षी सक्सेना (आईपीएस) को मिली है कोतवाली थाने की कमान

इंदौर – डीजीपी सुधीर सक्सेना देर रात इंदौर आ गए । डीजीपी बनने के बाद सुधीर सक्सेना का ये पहला इंदौर दौरा है । ऑफिसर मेस में पुलिस कमिश्नर हरिनारायण चारी मिश्र , मनीष कपूरिया , राजेश हिंगड़कर सहित अन्य अधिकारियों ने सुधीर सक्सेना का स्वागत किया । इंदौर और भोपाल में पुलिस कमिश्नरी लागू है । ऐसे में दोनो जगह सभी की विशेष नजर है । इंदौर में पिछले दिनों बढे क्राइम रेट पर भी प्रदेश के जिम्मेदारो की नजर है । मंगलवार को डीजीपी पुलिस अधिकारियों की मीटिंग के साथ पुलिस की कार्यप्रणाली देखेंगे । उम्मीद है कि इस दौरान वो किसी पुलिस थाने का निरीक्षण भी कर सकते है जिसके चलते सभी थानों पर विशेष तैयारियां भी गई है ।

    'No new videos.'