उपभोक्ताओं के सामने ही होगी बिजली मीटर की जांच

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

उज्जैन। विद्युत मीटर में खराबी होने पर अब उसे टेस्टिंग के लिए लैब नहीं ले जाया जाएगा। मीटर की जांच रिपोर्ट आने के लिए लंबा इंतजार करना पड़ेगा। उपभोक्ताओं के सामने ही उनके मीटर की जांच होगी। उन्हें बताया जाएगा कि उनके मीटर में क्या खराबी है। मीटर की जांच नि:शुल्क होगी। उपभोक्ताओं को मीटर की जांच रिपोर्ट भी हाथोंहाथ मिल जाएगी। शहर की बिजली व्यवस्था संभाल रही फ्रेंचाइजी एस्सेल विद्युत वितरण कंपनी द्वारा खराब मीटर की जांच करने के लिए कैंप आयोजित किए जाएंगे। ये कैंप विशेष रूप से शहर के उन क्षेत्रों में लगाए जाएंगे, जहां मीटर खराब होने की सबसे ज्यादा शिकायते हैं। करीब 6 मीटर टेस्टिंग मशीनें लगाई जाएगी। इनसे मीटर की जांच होगी। उपभोक्ता यहां अपने मीटर की जांच करवा सकेंगे। यह जांच पूरी तरह से नि:शुल्क रहेगी। उपभोक्ता अपनी संतुष्टि के लिए नए मीटर की भी जांच करवा सकता है। खास तो यह कि उनके सामने ही मीटर की जांच होगी, इससे उन्हें पता चल जाएगा कि उनके मीटर में क्या खराबी है। मीटर में सुधार की गुंजाइश होगी तो सुधार कार्य होगा नहीं तो उसे बदल दिया जाएगा। नए मीटर को लेकर भी यदि कोई संदेह है तो उसकी भी जांच करवाई जा सकती है। शहर में करीब 5700 विद्युत मीटर खराब है। उनकी जांच की जाएगी। मीटर धीमे या तेज चलता पाया जाने पर उसे बदला जाएगा। खराब मीटर की जांच उन्हें बदले जाने का टारगेट 15 फरवरी 2015 तक का रखा गया है। यदि आपका मीटर तेज चल रहा है तो आप उसकी जांच करवा सकते हैं। इसके लिए आपको संबंधित जोन पर मीटर के बिल की काॅपी के साथ आवेदन करना होगा। उसके बाद आप कैंप में जाकर अपने सामने मीटर की जांच होते हुए देख सकते हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...