क्लीन, ग्रीन और हेल्दी इंदौर के संदेश के साथ जीयो इंदौर मैराथन कल

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इंदौर. क्लीन, ग्रीन और हेल्दी इंदौर के संदेश के साथ रविवार को 15 हजार से अधिक धावक जीओ इंदौर मैराथन में दौड़ेंगे। इसके लिए शहर में जबरदस्त उत्साह देखा जा रहा है। अफ्रीका, केन्या व अन्य देशों के 15 और देश के 150 से ज्यादा धावक इसमें शामिल होंगे। मैराथन, एकेडमी ऑफ इंदौर मैराथनर्स द्वारा आयोजित और पॉवर्ड बाय दैनिक भास्कर है। मैराथन में पांच, 10 और 21 किमी तीन अलग-अलग रेस रखी गई है। इसमें 9 लाख रुपए से अधिक के नकद पुरस्कार भी रखे गए हैं। ओपन कैटेगरी में प्रथम आने वाले मैराथनर को एक लाख रुपए का पुरस्कार दिया जाएगा। नेहरू स्टेडियम पर खत्म होंगी तीनों रेस
पांच किमी : राजबाड़ा से शुरू, नेहरू स्टेडियम पर खत्म।
10 और 21 किमी – नेहरू स्टेडियम से शुरू, वहीं खत्म।

इंदौर मैराथन में यह भी जुड़े
लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन, नगरीय प्रशासन मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, हाई कोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस रमेश गर्ग, कमिश्नर संजय दुबे, कलेक्टर आकाश त्रिपाठी, डीआईजी राकेश गुप्ता, एमपीसीए प्रेसीडेंट संजय जगदाले ‌और अन्य ने सशुल्क रजिस्ट्रेशन कराया है।

चीते की गति वाला धावक भी आएगा
केन्या के धावक भी इसमें शामिल होने के लिए यहां आ चुके हैं। उन्होंने हाल ही में अहमदाबाद की 21 किमी हॉफ मैराथन रिकॉर्ड समय 62 मिनट में पूरी की थी। उनकी तुलना चीते से की जाती है, लेकिन जानकार कहते हैं कि चीता केवल कुछ समय के लिए ही इतना तेज दौड़ सकता है, जबकि इस धावक का 21 किमी तक लगातार तेज दौड़ना बड़ी बात है।

भास्कर पहल : दौड़ें या न दौड़ें, आएं जरूर…
इस रविवार इंदौर एक नया इतिहास लिखने जा रहा है। दुनियाभर से आए धावक इंदौर मैराथन में भाग लेंगे। बड़ी संख्या में शहर के लोगों द्वारा पंजीयन कराया जाना अपने आप में एक मिसाल बन गया है, लेकिन 22 लाख की आबादी वाले इस शहर का गौरव तब और बढ़ेगा, जब आप सभी जो किन्हीं कारणों से इसमें भाग नहीं ले पाए हैं, शहर और पूरी दुनिया से आए धावकों का हौसला बढ़ाने रविवार सुबह मैराथन मार्ग पर आएं। आपकी मौजूदगी क्लीन इंदौर, ग्रीन इंदौर के लिए मील का पत्थर साबित होगी। आप दौड़ें या न दौड़ें, लेकिन आएं जरूर…।

इस रविवार इंदौर दौड़ेगा
क्ली न ग्रीन और हेल्दी इंदौर के लिए रविवार को होनेवाली मैराथन के लिए सभी तैयार हैं, ट्रैक भी और लोग भी। यदि आप इसमें शामिल होने आ रहे हैं तो रूट को ध्यान में रखते हुए स्टार्ट टाइम से 45 मिनट पहले वेन्यू पर पहुंचें।

यदि सिर्फ देखने आ रहे हैं तो कोशिश करें कि टू व्हीलर या पैदल ही आएं। चियर करने आ रहे हैं तो फुटपाथ पर खड़े होकर करें। परेशानी नहीं होगी, आपको भी और दूसरों काे भी। वह सब कुछ जो एक मैराथन रनर को जानना चाहिए पढ़िए सिटी भास्कर की इस मैराथन गाइड में –

टू व्हीलर या पैदल ही आएं
लोगों की अधिक भीड़ की संभावना को देखते ही आम लोगों से अपील की जा रही है कि वह मैराथन में शामिल होने या देखने के लिए पैदल या टू व्हीलर से ही आएं। या फिर एक ही
क्षेत्र से आ रहे हैं तो एक साथ एक ही कार में आएं।

जो चेयरअप के लिए आ रहे हैं
उनके लिए सुझाव है कि वह मेडिकल कॉलेज से पलासिया की ओर फुटपाथ पर खड़े होकर चेयर करें, सड़क पर नहीं आएं।

मैराथन रूट पर यह रहेगी व्यवस्था- रास्ते में 25 जगहों पर डीजे, म्यूजिक, पानी के लिए स्टेज लगाए गए हैं। इसमें रॉक बैंड धैवत और असॉल्ट यहां प्रस्तुति देंगे।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...