अब 10 दिन में गैस कनेक्शन से जुड़ेगा खाता

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

इंदौर. रसोई गैस कनेक्शन को बैंक खातों से लिंक करने के लिए केवल सात दिन शेष रह गए हैं। 31 मार्च के बाद जिन ग्राहकों के कनेक्शन बैंक खाते से लिंक नहीं होंगे, उन्हें बाजार भाव से सिलेंडर मिलेंगे। वहीं गैस कंपनियों ने कनेक्शन को बैंक खातों से लिंक करने की प्रक्रिया में भी बदलाव किया है।

अभी एजेंसी वाले ग्राहक से आवेदन लेकर उसे सीधे बैंक खातों से लिंक करा देते थे, इसमें दो से चार दिन लग रहे थे, लेकिन कई ग्राहकों को खाते में सब्सिडी नहीं मिलने के बाद गैस कंपनियों ने प्रक्रिया बदल दी है। अब एजेंसी वाले ग्राहक का आवेदन अपलोड कर सेंट्रल सर्वर भेज रहे हैं।
यहां से ग्राहक के संबंधित बैंक के पास जाएगा। बैंक प्रबंधन ग्राहक के खाते, पते का सत्यापन करेगा और इसके बाद वह अपना एप्रूवल जारी कर सेंट्रल सर्वर को वापस भेजेगा, इसके बाद ही खाता और कनेक्शन को लिंक किया जाएगा।
इस प्रक्रिया में दस से पंद्रह दिन तक लग रहे हैं। इसलिए गैस कंपनियों ने भी ग्राहकों से अपील की है कि वह जल्द से जल्द खाते को लिंक करने के लिए आवेदन दे दें, जिससे अप्रैल माह से उन्हें खाते में सीधे सब्सिडी मिलना शुरू हो जाए।
17 रुपए का कट रहा है टैक्स
अभी सब्सिडी वाला सिलेंडर 455.50 रुपए में मिल रहा है, वहीं गैर सब्सिडी वाले सिलेंडर के बाजार भाव 683 रुपए हैं। जिन ग्राहकों ने कनेक्शन को बैंक खातों से लिंक करा लिया है, उन्हें डिलेवरी मैन को तो 683 रुपए देना पड़ रहे हैं, लेकिन खाते में सब्सिडी की राशि 211 रुपए आ रही है।
इसमें करीब 17 रुपए टैक्स भी कट रहा है। वहीं कनेक्शन को लिंक नहीं कराने वाले को सिलेंडर अभी 455.50 रुपए में पड़ रहा है। लेकिन 1 अप्रैल के बाद इन ग्राहकों को सिलेंडर 683 रुपए में पड़ेगा। सब्सिडी नहीं मिलेगी।
जिले में 24% खाते अब भी नहीं हुए लिंक
जिले में करीब 8 लाख रसोई गैस ग्राहक है। इसमें से 76 फीसदी लोगों ने कनेक्शन को बैंक खातों से लिंक करा लिया है, लेकिन अभी भी 24 फीसदी ग्राहक इससे वंचित हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...