10 साल की कशिश ने बचाई 6 की जान, कार में बेहोश हो गया था परिवार

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

1_1429863785

10 साल की एक मासूम बच्ची की होशियारी ने एक पूरे परिवार की जान बचा ली। मामला बड़वाह के पास हुए एक एक्सीडेंट का है। एक्सीडेंट इतना भीषण था कि कार में सवार इस बच्ची के माता-पिता, दादी और भाई-बहन सब बेहोश हो गए थे। ऐसे में इस मासूम बच्ची ने बिना घबराए अपने पापा की जेब से उनका फोन निकाला और अपने मामा को फोन कर एक्सीडेंट की जानकारी दी। मामा की तत्परता से घायलों को समय पर इलाज मिला सका, जिससे सभी की जान बच गई।

यह है पूरा घटनाक्रम : देवास निवासी विनय गोखे (45) अपनी पत्नी अंजना (44) ,चाची मधु (70) और तीनों बच्चों के साथ बुरहानपुर में अपनी भांजी की शादी में गए थे। वहां मामेरा की रस्म करने के बाद ये सभी कार से देवास के लिए रवाना हुए थे। रास्ते में बड़वाह के पास अचानक उनकी कार के दोनों टायर फट गए, जिसके चलते कार पलटी खाकर एक पेड़ से जा टकराई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि विनय की छोटी बेटी कशिश को छोड़कर कार में बैठे सभी लोग घायल होकर कार के भीतर ही बेहोश हो गए। चूंकि कशिश पीछे की सीट पर सबसे कोने में बैठी थी। इस कारण उसे ज़्यादा चोट नहीं आई। टक्कर के बाद घबराई कशिश ने पहले अपने पापा को उठाने की कोशिश की, उनके ना उठने पर उसने मम्मी और दादी को उठाया लेकिन जब वे भी नहीं उठे तो वह कार के अगले हिस्से में जा पहुंची और पापा की जेब में से फोन निकाल लिया। कशिश के हाथ में फोन आते ही उसने सबसे पहले अपने मामा को फोन लगाया और हादसे की जानकारी दी। मामा के पुलिस में होने की वजह से कशिश को यह जानकारी थी कि सबसे पहले मदद वे ही कर पाएंगे।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.