अब दोबारा इंदौर से शिर्डी, अहमदाबाद जबलपुर जाएगी एयर टैक्सी

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

tax_1430521798

हवाई यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। प्रदेश में दोबारा शुरू होने वाली एयर टैक्सी यात्रियों को इंदौर से शिर्डी, अहमदाबाद और जबलपुर का सफर करवाएगी। एयर टैक्सी का संचालन करने जा रही कंपनी ने इसके प्राथमिक रूट्स तय किए हैं। एयरलाइंस जून अंत तक उड़ानों का संचालन शुरू करने की तैयारी में है।
मप्र राज्य पर्यटन विकास निगम ने 2011 में एयर टैक्सी शुरू करने की योजना बनाई थी। इसके तहत टेंडर जारी कर यह काम वैंच्युरा एयर कनेक्ट कंपनी को दिया था। अनुबंध अवधि खत्म होने पर सितंबर 2014 में कंपनी ने संचालन बंद कर दिया। इसके बाद एमपीएसटीडीसी ने दोबारा टेंडर जारी कर मुंबई की सुप्रीम एविएशन कंपनी को कॉन्ट्रेक्ट दिया है।
हाल ही में कंपनी ने शासन के साथ कॉन्ट्रेक्ट साइन किया है। कंपनी के प्रभारी मिलिंद महाजन ने बताया प्राथमिक तौर पर एयर टैक्सी के लिए इंदौर से शिर्डी, अहमदाबाद और जबलपुर मार्ग तय किए हैं। इसी तरह भोपाल से रायपुर और जबलपुर के लिए उड़ान होगी। पर्यटन निगम के आग्रह पर एक उड़ान खजुराहो, बांधवगढ़ और उमरिया के बीच भी चलेगी। कंपनी ने अमेरिका से नौ सीट के दो विमान भी मंगवाए हैं।
डोमेस्टिक कार्गो टर्मिनल के लिए सात दिन में होंगे टेंडर
एयरपोर्ट पर कॉमन यूजर डोमेस्टिक कार्गो टर्मिनल जल्द शुरू शुरू होगा। इसके लिए ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सिक्युरिटीज ऑफ इंडिया (बीसीएएसआई) ने सैद्धांतिक सहमति दे दी है। कार्गो टर्मिनल शुरू होने पर सभी एयरलाइंस इंदौर से देशभर में कहीं भी सामान पहुंचा सकेंगी। अभी यह काम जेट एयरवेज ही करती है। कार्गो टर्मिनल के लिए एयरपोर्ट प्रबंधन ने एयरपोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया मुख्यालय को प्रस्ताव भेजा था। मुख्यालय ने निरीक्षण के बाद टेंडर डॉक्युमेंट अप्रूव कर विमानतल प्रबंधन को भेजा था।
टेंडर जारी करने से पहले बीसीएएसआई से अनुमति लेने की बात कही थी। इस पर प्रबंधन ने बीसीएएसआई को पत्र लिखा था। एयरपोर्ट डायरेक्टर मनोज चंसोरिया के मुताबिक बीसीएएसआई ने सीयूडीसीटी के लिए पुराने टर्मिनल का निरीक्षण कर सैद्धांतिक सहमति दे दी है। सात दिन में काम शुरू करने के लिए टेंडर जारी किए जाएंगे। विमानतल प्रबंधन के मुताबिक इसका संचालन पीपीपी मोड पर होगा। यानी जिसे इसके संचालन का ठेका दिया जाएगा, वह पुराने टर्मिनल में कार्गो टर्मिनल की सभी व्यवस्थाएं करने के साथ पूरा संचालन संभालेगा।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.