इम्ब्रॉइडरीज़ अब सिर्फ औरतों के लिए नहीं!

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

1chikanmanish_1427533329

1. चिकन – इस बेहतरीन कढ़ाई की सबसे अच्छी बात है कि ये पूरी तरह जेन्डर न्यूट्रल ( मेन और वूमन दोनों के लिए) होता है. इसे पहनने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपनी नेकलाइन को इस तरह की कढ़ाई से भर लें. ये सही है कि कढ़ाई वाले कुर्ते या कुर्ती पहनना भी ठीक रहेगा. Manish Malhotra और Abu Jani- Sandeep Khosla जैसे डिज़ाइनर्स भी शेरवानी पर चिकन कढ़ाई का इस्तेमाल कर चुके हैं और इतना ही नहीं उन्होंने इससे कई खूबसूरत silhouettes तैयार किए हैं. ट्रेडिशनली, चिकन वर्क में व्हाइट धागे से, व्हाइट कपड़े पर कढ़ाई की जाती है और आज भी ये कढ़ाई पुरानी होते हुए भी काफी क्लासी लगती है. अगर आपको कलर्ड कपड़े पहनना पसंद है तो चिंता न करें, चिकन और इसके दूसरे प्रकार आपको निराश नहीं करेंगे.
2. काशीदा – चिकन के उल्टा, ये एम्ब्रॉएडरी फेमिनिन silhouettes (औरतों के कपड़ों) तक ही सीमित है, इसीलिए इसे काफी समझदारी के साथ पहनना चाहिए. हालांकि ये औरतों के कपड़ों तक सीमित है, फिर भी आज कई डिज़ाइनर्स इसे बेहतरीन और क्रिएटिव तरीके से इस्तेमाल करके मेन (men) silhouettes बना रहे हैं. आपके कुर्ते पर काशीदा कढ़ाई सिर्फ आपके नेकलाइन, कॉलर और कफ्स तक ही सीमित रहना चाहिए. ये काम किनारों पर कभी नहीं आना चाहिए. अगर आप जैकेट पहन रहे हैं तो आप इस कढ़ाई के साथ बहुत कुछ कर सकते हैं. स्लीव्स और जैकेट के किनारों और बंदगले पर काशीदा काफी शानदार लगता है. पाकिस्तान के लेबल Arsalan और Yahseer ने काशीदा वर्क वाले मेन्स आउटफिट्स बनाए हैं. इंडिया की बात करें तो, डिज़ाइनर Sabhyasachi, बंदगले और कुर्ते पर काशीदा का काम कर चुके हैं.
3. फुलकारी – पंजाब का क्लासिकल फ्लोरल वर्क, हमेशा से ही हर औरत के वॉर्डरोब की शान रही है और इसके काम को हमेशा से सम्मानित किया गया है. जब मेन्स फैशन में फुलकारी की बात आती है तो इसका काम बेहद सीमित है. कुर्ते या कुर्ती पर फुलकारी पहनना अच्छा ऑप्शन नहीं है. इसकी जगह men, फुलकारी वाले स्टोल और शॉल कैरी कर सकते हैं. अगर आप ऐसा कर रहे हैं तो अपने कुर्ते पर कढ़ाई कम रखें और स्टोल को ही लोगों का सारा ध्यान खींचने ने दें. इसे अपने हिसाब से ड्रेप करें, लेकिन ध्यान रखें कि इसका वर्क अच्छे तरीके से दिख रहा हो. इस कढ़ाई की पंजाबी पर्सनाल्टी को और शानदार बनाने के लिए, कुर्ते के साथ सलवार पहनकर.
4. ज़री – ज़री से आपके लुक में एक रॉयल्टी और क्लास का टच आ जाता है. ये उन कुछ कढ़ाईयों में से है, जो मेन के लिए डिज़ाइन की जाती थी. आज भी, ज़री ने अपने भव्यता को कायम रखा है और इसे शेरवानी और बंदगला को एम्बेलिश्ड करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. अपने दाम और भव्यता की वजह से ज़रदोज़ी, शेरवानी और मेन्सवेयर तक ही सीमित है. इसमें किए मेटल वर्क अपने आप में काफी शानदार होते हैं और इसीलिए इसके साथ हम आपको अपने लुक को सिंपल रखने की सलाह देंगे. कॉलर और शेरवानी के कफ्स पर जरदोज़ी काफी एलीगेंट और क्लासी लगेंगे. अगर आप ये वर्क थोड़ा ज़्यादा मात्रा में पहनना चाहते हैं तो आप चेस्ट पर मोटीफ्स या बॉर्डर के किनारों पर जरदोज़ी पहन सकते हैं.

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...