दुनिया का पहला रोबो वकील, 24 घंटे देगा कानूनी सलाह

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

world_first_robot_lawyer_17_05_2016
अमेरिका की एक लॉ फर्म ‘बेकर होसटेटलर’ ने दुनिया का पहला आर्टिफीशियल इंटेलीजेंट लॉयर (कृत्रिम लेकिन बुद्धिमान वकील) नियुक्त किया है। यह रोबोट विधि अनुसंधान से जुड़ी विभिन्न टीमों को अपनी सहायता प्रदान करेगा।
‘रॉस’ (आरओएसएस) नाम के इस रोबोट का निर्माण आईबीएम की वॉटसन काग्निटिव कंप्यूटर पर आधारित है। अनुसंधान से संबंधित अपने सवाल वकील ‘रॉस’ से पूछ सकेंगे।
इसके बाद यह रोबोट कानूनों का अवलोकन करेगा, उनसे साक्ष्य इकट्ठे करेगा, निष्कर्ष निकालेगा और उसके बाद साक्ष्य आधारित सबसे सटीक उत्तर देगा।
‘रॉस’ अपने उपयोगकर्ताओं को अदालत के ऐसे निर्णयों के बारे में चौबीसों घंटे सूचित करता रहेगा जो उनके मामलों को प्रभावित कर सकते हैं।
यह ऐसा प्रोग्राम है जो उपयोगकर्ता वकीलों से लगातार सीखता रहता है और बदले में उन्हें हर बार बेहतर परिणाम उपलब्ध कराता है।
‘बेकर होसटेटलर’ रॉस के उपयोग का लाइसेंस दिवालियापन, पुनर्संरचना और कर्जदाताओं के अधिकार से जुड़ी टीम को देगी।
मुख्य सूचना अधिकारी बॉब क्रेग ने बताया, ‘बेकर होसटेटलर में हम मानते हैं कि काग्निटिव कंप्यूटिंग और मशीन से सीखने के अन्य तरीकों से हम अपने मुवक्किलों को दी जाने वाली सेवाओं की गुणवत्ता सुधार सकते हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.