पीएससी ने 12 उम्मीदवारों को किया ब्लैक लिस्टेड

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

mppsc

मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग (पीएससी) ने राज्य सेवा परीक्षा- 2012 पेपर लीक मामले में 12 आरोपी उम्मीदवारों की पहचान कर उन्हें ब्लैक लिस्टेड कर दिया है। अब वे दो साल तक पीएससी की किसी भी परीक्षा में शामिल नहीं हो पाएंगे। पीएससी सचिव मनोहर दुबे के मुताबिक, हमने कोर्ट में पेश एसटीएफ के चालान के आधार पर इन्हें चिन्हित किया है। पहले इन सभी उम्मीदवारों के घर नोटिस भेजे गए।
उनसे जवाब लिए गए। अब इन्हें दो साल के लिए प्रतिबंधित किया गया है। आगे की कार्रवाई कोर्ट के निर्णय के अधीन रहेगी। दो साल पहले राज्य सेवा परीक्षा-2012 के पेपर लीक हो गए थे। मामले में अंतरराज्यीय बेदीराम गिरोह के कुछ लोगों को दिल्ली क्राइम ब्रांच ने और फिर एसटीएफ ने पकड़ा था।
एसटीएफ की जांच में पता चला था कि पीएससी के दोनों दौर के पेपर लीक हुए थे। एसटीएफ ने कोर्ट में पेश चालान में इन 12 उम्मीदवारों को लीक पेपर हासिल करने का आरोपी बनाया है। इसी आधार पर पीएससी ने यह कार्रवाई की है।
पीएससी के अधिकारियों ने बताया कि 12 उम्मीदवारों में से चार तो इंटरव्यू के दौर तक चुने जा चुके थे। उन्हें भी अयोग्य घोषित किया है। सभी उम्मीदवारों से लिखित में लिया जा रहा है कि उनका नाम भी यदि भविष्य में पेपर लीक से जुड़ा तो उनका चयन निरस्त करते हुए ऐसी कार्रवाई की जाएगी।
पिछले सप्ताह पीएससी ने छह लोगों को अयोग्य घोषित किया था। इन छह उम्मीदवारों ने परीक्षा की कॉपियों में तय उत्तरों के अलावा कुछ और भी लिख दिया था। परीक्षा के नियमों को आधार बनाकार उन्हें बाहर किया गया, लेकिन अभी जिन 12 उम्मीदवारों पर कार्रवाई की गई है, उन पर पेपर लीक करने वाले बेदीराम गिरोह से पेपर खरीद कर तैयारी करने के आरोप हैं।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.