मालिनी सुब्रह्माण्यम को इंटरनेशनल प्रेस फ्रीडम अवार्ड

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

malini_19_07_2016

भारतीय पत्रकार मालिनी सुब्रह्माण्यम को 2016 के प्रतिष्ठित इंटरनेशनल प्रेस फ्रीडम पुरस्कार के लिए चुना गया है। स्वतंत्र पत्रकार मालिनी पर हाल ही में छत्तीसगढ़ में हमला हुआ था।
उनके साथ मिस्र के महमूद अबू जैद (फोटो जर्नलिस्ट), तुर्की के एक समाचार पत्र के एडीटर-इन-चीफ कैन दुनदार और अल सल्वाडोर की ऑनलाइन समाचार पत्रिका के इनवेस्टीगेटिव रिपोर्टर अल फारो को भी इस पुरस्कार के लिए चुना गया है। ये पुरस्कार इस वर्ष न्यूयॉर्क में 22 नवंबर को प्रदान किए जाएंगे।
द कमेटी टू प्रोटेक्ट जर्नलिस्टस (सीपीजे) ने सोमवार को बताया, “मालिनी सुब्रह्माण्यम ने छत्तीसगढ़ में सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच संघर्ष तथा मानवाधिकार हनन पर खबर लिखी थी। इसके बाद उन पर हमले हुए। इस वर्ष की शुरुआत में उन्हें धमकी मिली और परेशान किया जाने लगा। इस कारण परेशान होकर उन्हें अपना घर छोड़ना पड़ा था।”
सीपीजे के कार्यकारी निदेशक ने जोएल सिमोन ने बताया, “इन चारों पत्रकारों ने अपने समाज की खबरों तथा महत्वपूर्ण घटनाओं के बारे में दुनिया को अवगत कराने के लिए अपनी स्वतंत्रता और जिंदगी को खतरे में डाला।”

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...