मुंशी प्रेमचंद के 136वें जन्मदिन पर गूगल ने किया याद

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

premchand-google-doodle_31_07_2016

भारत के मशहूर हिंदी साहित्यकार मुंशी प्रेमचंद का रविवार को 136वां जन्मदिन है और इस मौके पर गूगल ने उन्हें खास अंदाज में याद किया। गूगल ने अपना डूडल मुंशी प्रेमचंद के नाम किया है। 1880 में उत्तर प्रदेश के लमही गांव में जन्मे प्रेमचंद भारत ही नहीं विश्व के बड़े साहित्यकारों में गिने जाते हैं।
‘कलम के सिपाही’ के नाम से मशहूर प्रेमचंद ने एक दर्जन से ज्यादा उपन्यास और कई कहानियां लिखी थीं। उनकी कहानियों और रचनाओं में आम आदमी का दर्द नजर आता है। गूगल के डूडल में प्रेमचंद को गांव की कहानियों के रचयिता के रूप में दिखाया गया है। डूडल के देखकर उनकी कई कहानियां याद आ जाती हैं।
गौरतलब है कि मशहूर लेखक और साहिकत्यकार प्रेमचंद का असली नाम धनपत राय था। कलम के जादूगर के नाम से मशहूर इस लेखक की हिन्दी, उर्दू और अंग्रेजी भाषा पर सामान्य पकड़ थी। बहुत कम लोग जानते हैं कि प्रेमचंद ने हिंदी से पहले उर्दू में लिखना शुरू किया था।
मुशी प्रेमचंद ने अपनी कहानियों और उपन्यासों में आमजन की पीड़ा को शब्दों के जरिये पिरोया है। यही वजह है कि उनकी हर रचना कालजयी है। मुंशी प्रेमचंद का व्यक्तित्व बड़ा ही साधारण था। उनके निधन के इतने साल बाद भी उनकी रचनाएं कफन, गबन, गोदान, ईदगाह और नमक का दरोगा हर किसी को बचपन की याद दिलाती हैं।
इनके द्वारा लिखे गए कई उपन्यासों और कहानियों पर फिल्म और धारावाहिक बन चुके हैं। अभी हाल ही में मुंशी प्रेमचंद की ईदगाह पर फिल्म का निर्माण चल रहा है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.

LIVE OFFLINE
Loading...