प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाबरा में ‘जरा याद करो कुर्बानी’ कार्यक्रम का शुभारंभ किया

n_modi_

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आजाद नगर में शहीद चंद्रशेखर आजाद के स्माकर पहुंचे। जहां उन्होंने शहीद चंद्रशेखर आजाद की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित किए और स्माकर को देखा। इसके बाद उन्होंने झोतराड़ा में ‘जरा याद करो कुर्बानी’ कार्यक्रम का शुभारंभ किया। यहां प्रधानमंत्री का झाबुआ-आलीरापुर अंचल का पारंपरिक साफा और जैकेट पहनाकर स्वागत किया गया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजराती भाषा में सभा में आए सभी लोगों को अभिवादन किया। उन्होंने कहा कि अगस्त में महात्मा गांधी ने अंग्रेजों के विरुद्धभारत छोड़ों आंदोलन चलाया था। आज इसे 75 वर्ष हो रहे हैं और देश की आजादी मिले 70 वर्ष हो रहे हैं। जिन्होंने आजादी की खातिर अपनी जिंदगी खपा दी आज जो हम सांस ले रहे हैं वो उन्हीं के बलिदान का परिणाम है।
उन्होंने अपना सबकुछ देश के लिए समर्पित कर दिया। उनके के लिए सवा सौ करोड़ देशवासियों का दायित्व बनता है कि हमें आजादी देने वाले इन सभी महापुरुषों को याद करें।
हर हिंदुस्तानी यह संकल्प ले कि मैं भी देश के लिए कुछ करुंगा। उन्होंने कहां कि शहीद चंद्रशेखर आजाद के गांव आकर मैं धन्य हो गया। यह मेरा सौभाग्य कि आज उन्हें नमन करने का मुझे अवसर मिला। हम में ज्यादातर आजाद हिंदुस्तान में पैदा हुए है। हमें आजादी के नायकों की तहर देश के लिए अपने प्राण देने का मौका नहीं मिला, लेकिन देश के लिए जीने का मौका तो मिला है। आज देश के लिए मर मिटने का नहीं देश के लिए जीने का मौका है।
क्या हमारी ये जिम्मेदारी नहीं बनती कि आज हम देश के हर गांव में बिजली पहुंचाए। आज भी देश के कई गांवा में बिजली नहीं है। आज भी हमारी बेटियां शिक्षा से वंचित रह जाती है, क्या हमारे देशवासी यह संकल्प नहीं कर सकते कि हम उन्हें पढ़ाएंगे। पीएम ने कहा कि देश आगे जनशक्ति के सपनों और बलिदान से देश आगे बढ़ता है।

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.