फ़ेक न्यूज़ और प्रोप्रेगेंडा वाली ख़बरों पर फ़ेसबुक का लगाम…!

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

कंपनी ने कहा है कि सोशल नेटवर्क कम्युनिटी ये तय करेगी कि कौन से समाचार स्रोत भरोसेमंद हैं और इसके लिए वो यूज़र सर्वे का इस्तेमाल करेगी.

फ़ेसबुक के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी मार्क ज़करबर्ग ने कहा है कि बहुत जल्दी फ़ेसबुक पर लोगों की न्यूज़फीड पर दिखने वाली सामग्री में से 4 फ़ीसदी ख़बरें होंगी जो कि पहले से 5 फ़ीसदी कम है.

कंपनी की कोशिश है कि फ़ेक न्यूज़ और प्रोप्रेगेंडा वाली ख़बरों पर लगाम कसी जाए.

फ़ेक न्यूज़ के ख़िलाफ़, अपनी मुहिम को आगे बढ़ाते हुए ट्विटर ने भी शुक्रवार को घोषणा की कि उन्होंने 2016 के अमरीकी राष्ट्रपति चुनावों के दौरान रूसी बॉट अकाउंट से किए गए ट्वीट को लाइक, रीट्वीट और उन्हें फॉलो करने वाले 6,77,775 अमरीकी ट्विटर यूज़र्स को आगाह किया था.

माना जा रहा है कि ये बदलाव फ़ेसबुक पर लग रहे पक्षपातपूर्ण रवैये और झूठी ख़बरों को ना पहचान सकने के आरोपों के चलते हो रहा है.

ज़करबर्ग ने कहा, “हम नए बदलाव पर फ़ैसला ख़ुद ले सकते हैं, लेकिन ऐसा करने में हम सहज नहीं हैं.

  • हमें लगता है कि हमें बाहर के जानकारों से भी राय लेनी चाहिए और ऐसा करने से फ़ैसला हमारे हाथों में नहीं रहेगा. लेकिन इसके कारण निष्पक्षता की समस्या को सुलझाया जा सकेगा.
  • या फिर हम आपसे यानी कम्युनिटी से भी तो पूछ सकते हैं- और आपसे मिली राय रैंकिंग के ज़रिए निर्धारित की जा सकती है. जैसा हम पहले भी करते आए हैं.”

इसके तहत फ़ेसबुक यूज़र्स से विज्ञापनों के बारे में पूछा जाएगा कि क्या वो ख़बरों के उस ब्रांड को पहचानते हैं और उस पर भरोसा करते हैं.फ़ेसबुक के इस सिद्धांत का बड़े पैमाने पर परीक्षण किया जाना है क्योंकि एक तरफ जहां ख़बरों के कई स्रोत हैं जो पक्षपातपूर्ण ख़बरें देते हैं और उनको पसंद करने वाले और भरोसेमंद मानने वाले लोग हैं, वहीं छोटा- सा समूह है ऐसे स्रोतों का है जिन्हें काफ़ी लोग “मोटे तौर पर भरोसेमंद” मानते हैं चाहे उनका झुकाव किसी ख़ास विचारधारा के प्रति हो

ज़करबर्ग ने लिखा, “आज जिस दुनिया में हम रहते हैं वहां सनसनीखेज ख़बरें देना, ग़लत जानकारी देना और ध्रुवीकरण बड़ी समस्या है.” हाल में ज़करबर्ग ने कहा था कि न्यूज़, बिज़नेस, ब्रांड और मीडिया संबंधी फ़ीड के मामले में फ़ेसबुक कुछ बड़े बदलाव करने जा रहा है.

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.