डॉ प्रणब मुखर्जी 7 जून को आरएसएस कार्यकर्ताओ को संबोधित करेंगे

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

 

नागपुर के रेशीमबाग मैदान पर आयोजित होने वाले तृतीय वर्ष शिक्षा वर्ग समापन समारोह में पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित होंगे. वो ना सिर्फ स्वयंसेवकों के पासिंग आउट कार्यक्रम का अहम हिस्सा होंगे बल्कि, वो अपने विचार भी रखेंगे.

समारोह में सरसंघचालक मोहन भागवत समेत संघ का मौजूदा नेतृत्व भी उनके साथ मंच पर होगा. दर्शकों के अलावा कार्यक्रम में संघ के चुनिंदा पदाधिकारी और मीडिया प्रतिनिधि भी शामिल होंगे.

नागपुर में 25 दिन रहकर संघ का तृतीय वर्ष पाठ्यक्रम पूरा करने वाले देश के विभिन्न इलाकों से आए करीब 600 स्वयंसेवक इसका हिस्सा बनेंगे.

4 बार मिल चुके हैं मुखर्जी और भागवत

संघ के ज़िम्मेदार सूत्र बताते हैं कि मुखर्जी से संघ के शीर्ष नेतृत्व की अब तक कम से कम चार बार मुलाकातें हो चुकी हैं. राष्ट्रपति पद पर रहते हुए मुखर्जी से मोहन भागवत की दो बार दिल्ली में मुलाकात हुई थी.

सूत्रों का कहना है कि एक बार तो यूँ हुआ कि मुलाकात का दिन और वक्त तय हो चुका था लेकिन प्रणब दा की पत्नी का देहावसान हो जाने से लगभग सारे कार्यक्रम रद्द कर दिए गए थे. लेकिन रद्द हुई मीटिंग की सूची में सरसंघचालक के साथ मुलाकात शामिल नहीं थी. ये मुलाकात हुई और शोक संवेदना व्यक्त करने के बाद भी काफी देर चली थी.

इतना ही नहीं, इससे पहले की मुलाक़ात में प्रणब मुखर्जी को संघ के विषयों से जुड़ी जो पुस्तकें दी गई थीं, उसके संबंध में शंकाओं पर विचार-विमर्श का दौर दूसरी मुलाक़ात तक चला.

संघ के मत के अनुसार अन्य विचारोंवाले लोगों को बुलाने की यह परंपरा गोलवलकर के समय से रही है, जो दूसरों के विचारों या विरोधी विचारों के साथ चर्चा करना बेहतर मानते थे.

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.