अब भारत के आम नागरिक भी अन्तरिक्ष में जा सकेंगे,-इसरो

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

अंतरिक्ष में अपने पहले मानव मिशन के सपने को साकार करने के लिए भारत पूरी तरह तैयार है.

योजना के मुताबिक़ भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) दिसंबर 2021 में अंतरिक्ष में अपना पहला मानव मिशन भेजेगा.

इस मानव मिशन में न सिर्फ वैज्ञानिक होंगे बल्कि एक आम नागरिक को भी इस महत्वकांक्षी परियोजना का हिस्सा बनने का मौका मिलेगा.

इसरो के अध्यक्ष डॉ. के सिवन ने बीबीसी को बताया कि चयन की प्रक्रिया भारतीय वायु सेना के ज़रिए होगी.

उन्होंने कहा, “इसमें एक आम नागरिक को भी शामिल किया जाएगा. काफी कुछ उनकी यात्रा कर सकने की क्षमता पर निर्भर करता है.”l

नौ हज़ार तेइस करोड़ रुपए से बनाए गए मानव अंतरिक्ष उड़ान केंद्र के उद्घाटन के बाद डॉ. सिवन इसकी घोषणा कर रहे थे.

यह उड़ान केंद्र भारत के पहले मानव मिशन से जुड़ी तैयारियां करेगा. इसरो अंतरिक्ष में तीन लोगों की टीम भेजने की तैयारी कर रहा है.

डॉ. उन्नीकृष्णन नायर को इस उड़ान केंद्र का प्रमुख बनाया गया है और गगनयान परियोजना के निदेशक डॉ. आर हटन होंगे.

    'No new videos.'

Leave a Reply

Your email address will not be published.