आर्टिफ़िशियल इंटेलीजेंस से होने वाले बदलाव आग, बिजली या इंटरनेट से भी ज़्यादा प्रभावी-गूगल सीईओ सुंदर पिचाई

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Sunder pichai CEO Google

दो चीज़ों से आएगी क्रांति

पिचाई के अनुसार, अगले 25 सालों में दो चीज़ें क्रांति लेकर आएँगी, वो हैं, आर्टिफ़िशियल इंटेलीजेंस और क्वॉन्टम कंप्यूटिंग. आर्टिफ़िशियल इंटेलीजेंस पर बात करते हुए उन्होंने कहा, “मैं इसे मानवता की बनाई जाने वाली सबसे बेहतरीन तकनीक के रूप में देखता हूँ.”

“आप आग, बिजली या इंटरनेट के बारे में अभी जैसा सोचते हैं, ये वैसा ही होने वाला है. मुझे लगता है उनसे भी बेहतर”

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस सिस्टम मनुष्यों की तरह काम काम करने के लिए बनाया जाता है, ख़ासतौर पर किसी विशेष प्रकार की समस्याओं को हल करने के लिए. अभी भी कई ऐसे सिस्टम काम कर रहे हैं.

कई देश सूचना के प्रवाह को रोक रहे हैं और स्वतंत्रता के मॉडल को अक्सर हल्के में लिया जाता है.बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने प्राइवेसी, डेटा और टैक्स से जुड़े विवादों पर भी बात की. उन्होंने कहा कि आर्टिफ़िशियल इंटेलीजेंस से होने वाले बदलाव आग, बिजली या इंटरनेट से भी ज़्यादा प्रभावी होंगे.

पिचाई से जब पूछा गया कि इंटरनेट का चीनी मॉडल – जिसमें सरकार के हाथ में बहुत ताक़त है और कड़ी निगरानी रखी जाती है, कितना सही है, तो पिचाई ने बिना चीन का उल्लेख करते हुए कहा कि स्वतंत्र और मुक्त इंटरनेट पर “हमला किया जा रहा है.” हालांकि उन्होंने इसके बाद कहा, “हमारे प्रमुख उत्पादों और सेवाओं में से कुछ भी चीन में उपलब्ध नहीं हैं.”