जल्द ही expansion of Universe रुक जाएगा

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

डार्क ऊर्जा (Dark Energy)) की प्रकृति को लेकर हुए अध्ययन में वैज्ञानिकों ने पता लगाया है कि खगोलीय कालक्रम में जल्दी ही ब्रह्माण्ड का विस्तार (expansion of Universe) रुक जाएगा. इस शोध में वैज्ञानिकों ने यह भी अनुमान लगाया है कि कब तक यह विस्तार रूकना शुरू होकर पूरी तरह से रुकेगा और कब यह संकुचिंत (Shrinking of Universe) होना भी शुरू हो जाएगा.

ब्रह्माण्ड की उत्पत्ति के बारे में प्रचलित धारणा यही है कि एक विशाल विस्फोट से ही उसकी शुरुआत हुई थी. इस विस्फोट को बिग बैंग की घटना का नाम दिया गया था. तब से अब तक ब्रह्माण्ड का विस्तार (Expansion of Universe) ही हो रहा है. लेकिन यह विस्तार कब तक होता रहेगा इस बारे में वैज्ञानिक किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंचे थे.  नए अध्ययन में डार्क ऊर्जा (Dark Energy) की प्रकृति का अध्ययन करते हुए  वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि खगोलीय काल पैमाने के अनुसार यह विस्तार जल्दी ही रुक जाएगा और इसकी उल्टी प्रक्रिया यानि संकुचन (Shrinking of Universe) की भी शुरुआत हो जाएगी.

13.8 अरब साल से चली आ रही प्रक्रिया
ब्रह्माण्ड के भविष्य या अंत के बारे में कई मत प्रचलित है, लेकिन उनमें से एक मत यह भी है कि 13.8 अरब साल पहले शुरू हुए ब्रह्माण्ड का विस्तार एक सीमा के तक पहुंचकर रुक जाएगा और उसके बाद उल्टी प्रक्रिया शुरू हो जाएगी. प्रोसिडिसिंग्स ऑफ द नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेस में प्रकाशित इस अध्ययन में इसी के  बारे में बताया है.

डार्क ऊर्जा की भूमिका
तीन वैज्ञानिकों के इस शोध में डार्क मैटर की प्रकृति का प्रतिमान बनाने का प्रयास किया गया था. वैज्ञानिकों का काफी समय से यह मानना है कि ब्रह्माण्ड के विस्तार के लिए डार्क मैटर ही जिम्मार है. इस अध्ययन के प्रतिमान के अनुसार  डार्क ऊर्जा एक प्रकृति का नियमित बल नहीं है, बल्कि क्विंटएसेंस नाम का ऐसा सारतत्व है जो समय के साथ खत्म होता जा रहा है.

    'No new videos.'