Category Archives: About Us!

ऐसे बनी हेलेन सलमान खान के परिवार का अटूट हिस्सा

दूसरे विश्व युद्ध में जब हेलेन के पिता का निधन हुआ तो वो परिवार के साथ बर्मा से भारत आ गई थीं. उस वक्त उनकी आर्थिक हालत बहुत ही बुरी थी. उसी वक्त हेलेन के भाई भी गुज़र गए. जैसे तैसे हेलेन की मां ने नौकरी ढूंढी, लेकिन उस तन्ख्वाह में घर खर्च बमुश्किल ही चलता था. आखिरकार हेलेन ने भी काम करने का फैसला लिया. उनकी जान पहचान एक बैकग्राउंड डांसर से थी, लिहाज़ा हेलेन को भी यही काम मिल गया. हेलेन बेहतरीन डांस करती थीं, जिसे देखते हुए उन्हें हावड़ा ब्रिज फिल्म में एक बड़ा मौका मिला. और वो रातों रात दर्शकों के बीच छा गईं. इस तरह हेलेन एक बड़ी और बेहतरीन डांसर के रूप में उभरकर सामने आईं. 

हेलेन ने इस दौरान निर्देशक पीएन अरोड़ा से शादी कर ली थी. लेकिन ये शादी जल्द ही टूट गई. आखिरकार हेलेन की मुलाकात हुई सलीम खान से 1962 में. धीरे धीरे हेलेन को सलीम पसंद आने लगे और सलीम खान भी हेलेन को दिल दे बैठे. आखिरकार 1980 में दोनों ने शादी कर ली. उस वक्त इस रिश्ते का विरोध सलीम खान की पहली पत्नी सुशीला चरक ने ही नहीं बल्कि उनके बच्चों ने भी किया. सलमान खान, अरबाज़ और सोहेल तीनों ही इस शादी के सख्त खिलाफ थे और हेलेन से बात तक नहीं करते थे. 

धीरे-धीरे हेलेन का स्वभाव सभी को पसंद आने लगा और ये पता चला कि हेलेन वाकई काफी अच्छी हैं. लिहाज़ा सुशीला चरक ने ही नहीं बल्कि सलमान और सभी बच्चों ने भी उन्हें अपना लिया. और आज हेलेन सलमान खान के परिवार और इनकी जिंदगी का अटूट हिस्सा बन चुकी हैं.  

    'No new videos.'

टायकून काइली जेनर को फोर्ब्स मैगजीन ने साल 2020 में सबसे ज्यादा कमाई करने वाली सेलेब्रिटी

Kylie Jenner

काइली की हैरतअंगेज कमाई का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि उनके नीचे मौजूद टॉप चार सेलेब्स की कमाई मिलाकर भी काइली से अधिक नहीं है. काइली के बाद अमेरिकन रैपर केनी वेस्ट, मशहूर टेनिस प्लेयर रोजर फेडरर, पुर्तगाल के सुपरस्टार फुटबॉलर क्रिस्टियानो रोनाल्डो और अर्जेंटीना के सुपरस्टार फुटबॉलर लियोनेल मेसी का नाम है.  

इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर अमेरिका के रैपर कैनी वेस्ट का नाम है. उन्होंने इस साल 170 मिलियन डॉलर्स यानी लगभग साढ़े 12 अरब की कमाई की है. वेस्ट और काइली के बीच काइली की बहन किम कार्दशियां के पति हैं. कैनी इससे पहले तब चर्चा में आए थे जब उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव लड़ने की घोषणा की थी हालांकि उन्होंने कुछ दिनों बाद ही अपने फैसले को बदल भी लिया था. 

    'No new videos.'

कान में दर्द,..? जानें घरेलू इलाज

कान में दर्द एक आम समस्या है. ये दर्द दोनों कान में हो सकता है लेकिन ये ज्यादातर एक कान में ही होता है. कान का दर्द थोड़ी देर या बहुत देर तक भी सकता है. इयर इंफेक्शन के अलावा और भी कई वजहों से कान में दर्द होता है.

    'No new videos.'

Nokia PureBook X14 लैपटॉप भारत में लॉन्च

Nokia PureBook X14 लैपटॉप को भारत में लॉन्च कर दिया गया है और इसकी बिक्री फ्लिपकार्ट के जरिए की जाएगी. ये नोकिया का पहला लैपटॉप है. इसमें Intel 10th-जेनरेशन प्रोसेसर दिया गया है और Windows 10 प्री-इंस्टॉल्ड है.

इसे मॉडल नंबर NKi510UL85S के साथ सिंगल कॉन्फिगरेशन में उतारा गया है. इसे मैट ब्लैक फिनिशिंग के साथ पेश किया गया है. इसकी स्क्रीन में साइड्स में स्लिम बेजल्स हैं और इसमें बड़ा टच पैड मौजूद है.

Nokia PureBook X14 की कीमत 59,990 रुपये रखी गई है और 18 दिसंबर से फ्लिपकार्ट से इसके लिए प्री-बुकिंग की जा सकेगी. फिलहाल कंपनी ने इसके लिए सेल डेट की घोषणा नहीं की है.

    'No new videos.'

पूर्व भाजपा नेता एवं वित्तमंत्री यशवंत सिन्हा को श्रीनगर में रोका , वापस दिल्ली भेजा

पूर्व भाजपा नेता यशवंत सिन्हा मंगलवार को श्रीनगर हवाईअड्डे पर पहुंचे लेकिन उन्हें शहर में नहीं जाने दिया गया और उन्हें आखिरी उड़ान से दिल्ली लौटना पड़ा.सिन्हा एयर मार्शल कपिल काक (सेवानिवृत्त) और सामाजिक कार्यकर्ता सुशोभा भावे के साथ आज शाम को श्रीनगर हवाईअड्डे पहुंचे.दिल्ली से आई एक उड़ान से सिन्हा को उतरते हुए देखकर हरकत में आए हवाईअड्डे के अधिकारी और पुलिस अफसर तत्काल उन्हें वीआईपी लाउंज में ले गये.

अधिकारियों को इस बारे में कोई सूचना नहीं थी कि सिन्हा को शहर में प्रवेश की इजाजत है या नहीं.81 वर्षीय सिन्हा को विनम्रता से वापसी के लिए कहा गया और उन्हें शहर में प्रवेश की इजाजत नहीं दी गयी जहां पांच अगस्त से संचार नेटवर्क नहीं हैं और पाबंदियां लागू हैं.अधिकारियों के मुताबिक सिन्हा ने अधिकारियों से वह आदेश दिखाने को कहा जिसके तहत उन्हें शहर में प्रवेश की इजाजत नहीं है.

उन्होंने दिल्ली नहीं लौटने की बात कही और प्रदेश के अधिकारियों को संदेश दिया कि वह तब तक हवाईअड्डे पर रहेंगे जब तक उन्हें शहर में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाती.राज्य प्रशासन और पुलिस अधिकारियों ने अंतत: सिन्हा के साथ आए लोगों को मना लिया जिसके बाद सिन्हा को अंतिम उड़ान से दिल्ली रवाना किया गया. अन्य दोनों सदस्य श्रीनगर शहर में चले गये.पहले भी कई नेताओं को श्रीनगर में प्रवेश की अनुमति नहीं मिली है और उन्हें हवाईअड्डे से ही दिल्ली लौटना पड़ा है.इनमें कांग्रेस नेता राहुल गांधी, गुलाम नबी आजाद और भाकपा महासचिव डी राजा शामिल हैं.

    'No new videos.'